रात्रिपाठशाला कार्यक्रम

By , September 12, 2009 4:52 am

शिक्षा के क्षैत्र में भरसक प्रयासों के बावजूद आज भी कई बच्चे परिस्थितिवष दिनषाला में नही जा पाते हैं। क्यौंकि दिन में खेती के कार्य में अपने माता पिता की मदद करने, भेड़ बकरी आदि चराने, या माता पिता के कार्य पर जाने के बाद अपने छोटे भाई बहनों की देखरेख करना इनकी पहली प्राथमिकता होती है। शोध द्वारा अपने कार्यक्षेत्र के वंचित बच्चों की वैकल्पिक षिक्षा प्रदान करने हेतु रात्रिपाठषालाओं का संचालन किया जा रहा है।

बच्चे दिनभर काम से जुड़े होते है अतः रात्रिषाला के पाठ्यक्रम में रोचक व मनोरंजन तरीके से सिखाने का प्रयास किया जाता है। बालसंसद, बालमेला, भ्रमण, चलपुस्तकालय, व्यावसायिक प्रशिक्षण, पपेट शो, फिल्म शो, स्वास्थ्य जॉच व प्रतियोगताओं का आयोजन कर व्यावहारिक षिक्षा को बढ़ावा दिया जाता है ताकि अधिक समय तक बच्चौं का रात्रिपाठषाला में ठहराव हो सके।

संचालन व्यवस्था :-

गॉव की मांग के अनुसार समुदाय के लोगों के साथ सामुहिक बैठक करके षिक्षा समिति बनाई जाती है जिसके सहयोग से वंचित बच्चों का सर्वे करके अध्यापक व शाला स्थान का चयन किया जाता है। संस्था द्वारा आवष्यकतानुसार समिति के खाते में प्रति माह राषि जमा कराई जाती है। जिसके खचोर्ं का ब्यौरा षिक्षा समिति रखती है। शाला के लिए स्थान व भवन की व्यवस्था समिति गांव द्वारा निषुल्क उपलब्ध कराई जाती है। जिसकी संस्था द्वारा समय समय पर मरम्मत की जाती है। क्यों कि शाला संचालन रात्रि में होता है। अतः रोषनी व्यवस्था के लिए आवष्यकतानुसार सोलर लालटेन या सोलर फिक्स यूनिट की व्यवस्था संस्था द्वारा की जाती है। 25 बच्चों पर एक अध्यापक व अधिक बच्चे होने पर 2 अध्यापको का चयन किया जाता है। कार्य में लापरवाही बरतने पर नया अध्यापक लगाया जाता है शाला संचालन के लिए अध्यापक को 25 दिवसीय प्रशिक्षण पूर्ण करना आवष्यक है।

वर्तमान में संचालित रात्रिपाठषालायें

क्र.सं.

पाठषाला का नाम

प्रारम्भ तिथि

भवन व्यवस्था

पानी व्यवस्था

रोषनी व्यवस्था

संस्था से दूरी

परियोजना

1

पाटन

02.10.00

संस्थागत

टॉका

2 सोलर लालटेन

6 कि.मी.

जी,ए,ए,

2

बड़गांव

01.07.08

निजी भवन

हैण्डपम्प

2 सोलर लालटेन

6 कि.मी.

जी,ए,ए,

3

चुरली

01.04.05

व्यक्तिगत

हैण्डपम्प

2 सोलर लालटेन

7 कि.मी.

जी,ए,ए,

4

चून्दडी

07.07.00

सरकारी

टॉका

2 सोलर लालटेन

12 कि.मी.

जी,ए,ए,

5.

गणेषपुरा

09.08.02

संस्थागत

हैण्डपम्प

2 सोलर लालटेन

17 कि.मी.

जी,ए,ए,

6.

रामपुरा

01.08.83

संस्थागत

टॉका

1 सो 1 यूनिट

16 कि.मी.

जी,ए,ए,

7.

नलू

01.07.83

संस्थागत

टॉका

2 सो 1यूनिट

0 कि.मी.

जी,ए,ए,

बंद व नई रात्रिपाठषालाएॅ :-

जुलाई 2008 में बड़गांव रात्रिषाला खोली गई। सितम्बर 2008 से रात्रिषाला चुंदड़ी में बच्चो की अनियमितता एवं कम उपस्थिति को मध्य नजर रखते हुए षिक्षा समिति अभिभावकों व संस्था के सामुहिक निर्णय के अनुसार बन्द कर दी गई।

अध्यापक विवरण

क्र.सं.

पाठषाला का नाम

अध्यापक का नाम

पिता/पति का नाम

जाति

उम्र

शैक्षणिक योग्यता

कार्य प्रारम्भ तिथि

1

पाटन विनोद यादव रतन लाल

यादव

18

11 वीं

01.07.2008

2.

चुरली विश्राम लाल सुजाराम

भांभी

24

8 वीं

01.04.2005

3.

चून्दडी किशन लाल हीरालाल

जाट

37

10 वीं

07.07.2000

4.

गणेषपुरा महावीर जयराम

जाट

35

10 वीं

09.08.1999

5.

रामपुरा हनुमान किस्तूरमल

शर्मा

33

8 वीं

01.08.1999

मुन्नीदेवी हनुमान

शर्मा

28

5 वीं

01.08.1999

6.

नलू रतन लाल श्रवण लाल

माली

18

10 वीं

01.07.2008

औमप्रकाष मिट्ठूलाल

रैगर

48

8 वीं

06.04.2005

7.

बड़गांव मन्जु शर्मा जितेन्द्र

शर्मा

24

8 वीं

01.07.2008

Leave a Reply


seven + 3 =

Panorama Theme by Themocracy